मंगलवार, 5 जनवरी 2010

विघ्न हर्ता

यह चित्र मैंने वर्ष १९९८ में उकेरा था । हाई टेक पेन से चित्र को अंकित करने की आदत को अपनी अर्धांगिनी द्वारा दिए गए प्रोत्साहन की बदौलत मैंने वाटर कलर में बदलने की नाकाम कोशिश की है। अपनी कृति है इसलिए पसंद है। उम्मीद है आप सब को भी पसंद आएगा।
_ निहार खान